How to Start Profitable Stationery Business Complete Guide

आज हम Stationery business एरिया के बारे में बात करेंगे जो काफी बड़ा है, डिमांडिंग है और उसकी मार्केट में जरूरत कभी खत्म हो ही नहीं सकती, देखिए जब भी हम कोई बिजनेस शुरू करने की सोचते हैं तो आप ये जरूर देखोगे कि उसका मार्केट कैसा है उसकी डिमांड क्या है और इसमें फ्यूचर में कितना हमें फायदा हो सकता है। यह सारा माप तोल करने के बाद ही हम बिजनेस में आगे बढ़ते हैं और यही तरीका सही भी है आपको रिसर्च पहले करना बहुत जरूरी है।

Stationery business में बहुत स्कोप है बहुत सारी चीजें ऑफिस में कवर कर सकते हो और इसके आपको कुछ फायदे भी बताऊंगी की कैसे यह बिजनेस फायदेमंद हो सकता है और एक लंबे समय के लिए आप इसे एक बिजनेस को लेकर चल सकते हो।

देखिए आपको पता है हमारी भारत की पापुलेशन कितनी है हर घर में एक बच्चा तो आपको मिल ही जाएगा और हर बच्चा स्कूल तो जाता ही है और उसमें कई सारी स्टेशनरी आइटम एक बच्चे को लगती है जैसे बुक्स, पेन, पेंसिल, इरेज़र, ग्लू, कार्डबोर्ड पेपर, क्राफ्ट आइटम. बुक्स में भी कई प्रकार की बुक्स आती है शॉर्ट बुक, लोंग बुक, प्लेन बुक, लाइनिंग बुक्स, इसमें बहुत सारे आइटम हो गए तो वैसे ही आपको देखना है कि आपकी स्टेशनरी के आइटम कहां-कहां जरूरत होती है।

आप ऑफिस ऑडियंस को भी टारगेट कर सकते हैं वहां पर भी स्टेशनरी आइटम की जरूरत होती है। A4 size paper, pen, ग्लू, स्टेपलर, डायरीज ऐसे बहुत सारे आइटम की रिक्वायर्ड होती है।

लेकिन अगर आप ऑफिस पर फोकस ना करके सिर्फ बच्चों पर ही फोकस करें तो आप लाखों में आप कमा सकते हो क्योंकि यह जो बच्चों का एरिया है यह काफी बड़ा है आपको कहीं और जाने की जरूरत ही नहीं है, बाकी जो कस्टमर आपके होंगे ऑफिस या किसी और चीज के लिए वह अलग है लेकिन आपको फोकस सिर्फ स्कूल पर करना है स्कूल के बच्चों पर करना है इसमें आप काफी कमा सकते हो और अगर आपको यकीन नहीं आ रहा तो आप किसी भी स्टेशनरी की दुकान में जाओ जो आपके आसपास हो वहां पर सिर्फ आधे घंटे के लिए जाकर आप खड़े हो जाइए और देखिए कि उसका धंधा कैसे चलता है।

आप देखोगे कि बच्चों के स्कूल चालू होते ही वहां बच्चों की लाइन लग जाती है कभी उन्हें बुक्स, पेपर चहिए है कभी कुछ क्राफ्ट आइटम लेना है कुछ ना कुछ उनकी स्कूल में रिक्वायरमेंट होती है और जो आपके आसपास के एरिया के बच्चे हैं, स्कूल के आसपास के बच्चे हैं फिर उस चीज की डिमांड काफी बढ़ जाती है एक ही चीज की जरूरत होती है।

आगे के आर्टिकल में, मै आपको बहुत सारी ऐसी टिप्स देने वाली हूं जिससे आपको काफी फायदा हो सकता है आप एक प्रॉफिटेबल स्टेशनरी बिजनेस कर सकते हो तो अगर आप इंटरेस्टेड हो, खुद का बिजनेस शुरू करना चाहते हो आप स्टेशनरी बिजनेस में इंटरेस्टेड हो तो यह पूरा आर्टिकल जरूर पढ़िए इससे आपके बहुत सारे डाउट्स क्लियर होंगे।

यदि आपके पास सही रणनीति है तो एक लाभदायक स्टेशनरी आइटम व्यवसाय शुरू करना एक आकर्षक उद्यम हो सकता है। इस लेख में, हम शुरुआत से एक सफल स्टेशनरी व्यवसाय स्थापित करने की प्रक्रिया के माध्यम से आपका मार्गदर्शन करेंगे और आपको अपने लाभ को अधिकतम करने में मदद करने के लिए उपयोगी टिप्स प्रदान करेंगे।

कुछ स्टेप्स में हम आपको समझाएंगे कि कैसे आप स्टेशनरी आइटम बिजनेस शुरू कर सकते हो क्या प्रक्रिया होती है कैसे आप स्टेशनरी बिजनेस में मुनाफा कर सकते हो।

पहले मैं आपको स्टेप बाय स्टेप क्या प्रोसेस होता है स्टेशनरी बिजनेस शुरू करने के लिए वह बताऊंगी उसके बाद में बहुत ही इंपॉर्टेंट टिप्स बताऊंगी जो आपकी काफी मदद करेगा आपके बिजनेस को बड़ा बनाने में 

How to Start Profitable Stationery Business Complete Guide

  1. Conduct Market Research 

स्टेशनरी बिजनेस स्टार्ट करने के पहले बहुत ही जरूरी है कि आप मार्केट रिसर्च का संचालन करें उसमें आपको देखना होगा कि आपके कॉम्पिटीटर कौन है, स्टेशनरी आइटम के डिमांड क्या है आपके एरिया में,

आप सोशल मीडिया के माध्यम से भी पता कर सकते हो कि आपके एरिया में कौन सा प्रोडक्ट डिमांडिंग है तो ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिए भी यह जानकारी निकाल सकते हो।

  1. Stationery Business plan 

जैसे ही आपका मार्केट रिसर्च संचालन करके हो जाए। आपको बिजनेस प्लान बनाना बहुत ही आवश्यक है उससे आपको एक रोडमैप मिलता है कि कैसे आपको आगे काम करना है फ्यूचर के लिए चीजें काफी सुलझी हुई रहती है, क्योंकि आपने पहले से ही बिजनेस प्लान बना कर रखा है कि आप का ऑब्जेक्टिव क्या है, टारगेट मार्केट कौन सा है आपका बजट कितना है, मार्केट स्ट्रेटजी क्या होने वाली है, आपका बिक्री अनुमान क्या है अगर आपने बिजनेस प्लान अच्छी तरह से बनाया तो आप काफी फोकस्ड रहोगे आपके लक्ष्य पर.

  1. Select Product Line

Business plan के बाद आपको आपकी उत्पाद लाइन स्टेशनरी बिजनेस के लिए चुनना होगा जैसे मैंने अभी आपको बताया कि आपको डिसाइड करना होगा कि आप किस ऑडियंस को टारगेट करेंगे मतलब आप स्कूल के बच्चों को टारगेट करना चाहते हो कि ऑफिस कंपनी को टारगेट करना चाहते हो मेरी राय में अगर आप बच्चों को टारगेट करोगे स्कूल को टारगेट करोगे तो मुनाफा ज्यादा है क्योंकि जिस चीज के कस्टमर ज्यादा है तो बिक्री भी ज्यादा होगी और प्रॉफिट भी उतना ही ज्यादा होगा,

तो आपको पहले सेलेक्ट करना है आपका एक एरिया फिर उसमें आपको कौन सा स्टेशनरी आइटम की ज़रूरत जड़ा हैं, जैसे कि  बुक्स,बुक कवर, पेन, पेंसिल, इरेज़र, शार्पनर, रूलर्स, आदि 

अपने टारगेट कस्टमर के हिसाब से आप सारे स्टेशनरी आइटम सेलेक्ट कीजिए और जो ज्यादा डिमांड में है आप उसे सिलेक्ट कीजिए ताकि आप जब business स्टार्ट करोगे तो उन सामानों को आपको पहले रखना बहुत जरूरी है।

इससे आपके पास में एक लिस्ट आ जाएगी आपके टारगेट ऑडियंस के हिसाब से तो काफी आसानी हो जाएगी आपको परचेज करने के लिए और फिजूल की चीजों में आपका इन्वेस्टमेंट व्यर्थ नहीं जाएगा।

  1. Set Up Store(Location)

आप दो तरीकों से स्टोर शुरू कर सकते हो या तो फिजिकल स्टोर या फिर ऑनलाइन स्टोर शुरू कर सकते हो अगर आप फिजिकल स्टोर ओपन कर रहे हो तो उसके लिए लोकेशन चुनना बहुत ही जरूरी है क्योंकि आपका जो सेल है जो बिजनेस है वह की लोकेशन पर बहुत डिपेंड करता है, स्टोर ऐसी जगह पर होना चाहिए जहां से आपके टारगेट ऑडियंस आसानी से आपके पास आ सके उन्हें आपकी दुकान देख सके और मार्केट एरिया होगा जहां पर लोग कुछ न कुछ खरीदारी करने आते हैं तो वहीं पर अगर आपकी भी दुकान होगी पास में तो वह अपनी जरूरत का सामान लेते लेते वहां पर स्टेशनरी आइटम्स भी खरीद सकते हैं, मतलब जहां पर भीड़ हो लोगों का आना जाना हो वहां आपकी दुकान अच्छी चल सकती है जैसे स्कूल जाने का रास्ते में ही आपकी स्टेशनरी की दुकान आती है तो जाहिर सी बात है बच्चे स्कूल जाते जाते या फिर आते हुए उन्हें जो भी जरूरत के सामान होंगी स्टेशनरी आइटम्स होगी वह आपके पास से खरीदते हुए जाएंगे। यह बहुत अच्छा तरीका है 

इसलिए जब भी आप लोकेशन चुने बहुत सोच समझ के जहा से कस्टमर आ सके आपके पास ऐसी लोकेशन आप को चुनना होगा 

आप ऑनलाइन भी स्टोर ओपन कर सकते हो उसके लिए आपको एक इकॉमर्स प्लेटफॉर्म चुनना होगा लेकिन मेरी राय देना चाहूं तो फिजिकल स्टोर में आपको काफी फायदा है क्योंकि जो बच्चे हैं वह छोटी-छोटी चीजें ऑनलाइन नहीं मांगेंगे अगर उनको कोई चीज की रिक्वायरमेंट है स्कूल में उन्हें बुक चाहिए या फिर पेन चाहिए या फिर कोई क्राफ्ट आइटम चाहिए तो वह ऑनलाइन बुकिंग नहीं करेंगे बड़ी बड़ी चीज है या फिर पहले से ही ऑर्डर करने के लिए ऑनलाइन बुकिंग की जाती है।

इसलिए आप एक फिजिकल दुकान शुरू कीजिए जहां से लोगों को आप की दुकान देखें और वहां पर आकर खुद खरीदारी करें और दुकान में ऐसा होता है कि जब कोई एक चीज लेने आता है दूसरी चीज देखकर वह भी खरीद लेता है तो इसमें आपका फायदा ही है दुकान की रेंट आपको देनी पड़ती है। ऑनलाइन में आपको सेविंग हो जाती है क्योंकि आपको कोई रेंट नहीं देना होता है।

इसे भी पढ़ें How to apply for GST number online complete guide

  1. Stationery Inventory Source

आपकी जो भी स्टेशनरी के आइटम प्रोडक्ट है वो कहां से सप्लाई करना है इसके लिस्ट  बनाना बहुत जरूरी है, आप उसे लोकल मैन्युफैक्चर से भी ले सकते या फिर  कोई ऑनलाइन सप्लायर, इंटरनेशनल सप्लायर है तो आप वहां से भी आर्डर कर सकते हो क्योंकि आपको जितना मार्जिन मिलेगा उतना आपका प्रॉफिट होगा 

इसलिए एक अच्छे सप्लायर की लिस्ट बनाना बहुत ही जरूरी है इसमें मैं आपको कुछ टिप्स देना चाहूंगी जो बाकी दुकानों में जो सप्लायर जाते हैं आर्डर लेने के लिए। आप उनसे कांटेक्ट कर सकते हो। कोई भी दुकान का ओनर आपको कोई जानकारी नहीं देगा लेकिन आप उसके दुकान में जो सप्लायर आते हैं आर्डर लेने के लिए आप उनसे बात कर सकते हो पर्सनली और उनसे जानकारी ले सकते हो वह आपको अच्छी तरह से गाइड कर सकते हैं कि कैसे सप्लाई होता है कितना आपको इन्वेस्टमेंट करना चाहिए जानकारी उनसे मिल जाएगी 

आप दो-तीन जगह पर कंपेयर करके देख सकते हो कि कहां पर आपको अच्छी ऑफर मिल रही है और फिर आप उसके साथ आगे बढ़ सकते हो।

  1. Marketing

मार्केटिंग किसी भी बिजनेस के लिए बहुत ही जरूरी है बहुत ही अहम चीज है इसके बिना आपका बिजनेस बढ़ नहीं सकता तो आपको यह मार्केटिंग करना आना बहुत जरूरी है देखिए आपको आपकी कस्टमर को अट्रैक्ट करना बहुत जरूरी है इसलिए नहीं क्योंकि आपकी दुकान नया है जिन की दुकानें काफी पुरानी होती है वह भी यह सारी स्ट्रैटेजिस अपनाते हैं अपनी सेल्स बढ़ाने के लिए कस्टमर बढ़ाने के लिए तो आप तो यह कर ही सकते हो ताकि आपकी जो सेल से वह बड़े और आप stationery business marketing ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों माध्यम से कर सकते हो

आप सोशल मीडिया के थ्रू मार्केटिंग कर सकते हो ईमेल मार्केटिंग कर सकते हो, ऐड प्रिंट करके लगा सकते हो जिससे और लोगों को पता चले आप की दुकान के बारे में मार्केट स्ट्रेटजी आपको अपनानी होगी अगर आपको अपना बिजनेस बढ़ाना है, सेल्स बढ़ाने हैं और इस बिजनेस में आगे बढ़ना है।

  1. Investment in the stationery business

इन्वेस्टमेंट स्टेशनरी बिजनेस में हर किसी के लिए अलग होगा क्योंकि बहुत सारे फैक्टर्स पर डिपेंड करता है जैसे की लोकेशन, दुकान कितनी बड़ी है, आप कितना इन्वेंटरी रखोगे, आपके पास स्टाफ कितने होंगे, आप मार्केटिंग पर कितना खर्चा करोगे, इसलिए इन्वेस्टमेंट कॉस्ट सबके लिए अलग हो जाएगा जैसे उदाहरण के साथ आपको समझाती हूं कि अगर आप किसी शहर में दुकान लेते हो तो उसका रेंट आपको 30,000 से 50,000 के बीच में आपको सिर्फ रेंट होगा।

लेकिन यही आप किसी छोटी जगह पर दुकान खोलते हो शहर नहीं है तो इसका रेंट 10,000 हो जाएगा तब देख सकते हो कि बहुत cost-cutting हो जाएगा यहां पर तो इसके लिए आप यह दुकान का खर्च आप अपने हिसाब से लगा सकते हो कि आप कौन से लोकेशन में हो और वहां पर क्या प्राइस चल रहा है, 

आप उसमें इंटीरियर करोगे, फर्नीचर आपको लगाना होगा उसके लिए भी आपको 50 से 1,00,000 तक की राशि लग सकती है, फिर जब आप उसमें स्टोरेज करोगे इन्वेंटरी तो वह भी डिपेंड करता है कि आपकी टारगेट ऑडियंस कोंसी है और अब कितना सामान रखना चाहते हो अगर आप बहुत सारे सामान रखना चाहते हो जो कि रखना भी चाहिए जो आपके दुकान में चाहिए दिखेंगी तभी लोग आएंगे और लेंगे तो उसका कॉस्ट भी काफी ज्यादा हो जाता है 2,00,000 से लेकर 5,00,000 रुपए या फिर उससे भी ज्यादा की राशि आपको लग सकती है एक इन्वेंटरी स्टॉक करने में जैसे आपको आईडिया मिलेगा आप उसको रोलिंग कर सकते हो स्टार्टिंग में आपको पैसे तो लगाने होंगे उसके बाद में सप्लायर आपको टाइम देता है उसे पे करने के लिए कुछ 1 हफ्ते का समय दिया जाता है।

How to Start Profitable Stationery Items Business

स्टाफ की सैलरी, इलेक्ट्रिसिटी यह सारी चीजों के जो भी आपके पैसे लगेंगे जो भी इन्वेस्टमेंट होगी लगेगी अगर हम ओवरऑल बात करें एक नई स्टेशनरी शॉप ओपन करना है अगर आपको तो कम से कम 2 से 10 लाख रुपए आपके पास होने चाहिए या बिजनेस स्टार्ट करने के लिए अगर आपके पास स्टार्टिंग में उतने पैसे नहीं है तो आप लोन लेकर भी स्टार्ट कर सकते हो लेकिन अगर आपको कॉन्फिडेंस है कि आप की लोकेशन अच्छी है आपकी दुकान सही जगह पर है और आप उसमें से मुनाफा निकालकर कर सकते हो तो आप लोन लेकर भी कर सकते हो।

  1. Stationery Profit Calculation

इसके लिए पहले आपको आपके सारे एक्सपेंस निकालने होंगे जैसे दुकान की रेंट यूटिलिटीज जो स्टेशनरी स्टोक अपने खरीदने में पैसे डाले वह और कोई कर्मचारी है आपके पास तो उसके सैलरी यह सब हटाने के बाद में आपको एक प्रोफिट मिलेगा और अब आप प्रॉफिट देखकर समझ सकते हो कि आपको इसमें क्या इंप्रूवमेंट लाना है क्या आप ऐसा कर सकते हो जिससे आपका प्रॉफिट बड़े सेल्स बड़े और आप उस मार्केटिंग पर काम कर सकते हो 

स्टेशनरी बिजनेस में शुरुआत में अगर आपके पास ज्यादा कस्टमर नहीं है तो भी आप ₹20000 मुनाफा कमा सकते हो और जैसे ही आपके पास में सेल्स बढ़ने लगेगी तो आप 50000 से लेकर एक लाख की राशि का मुनाफा कर सकते हो इस बिजनेस में बहुत पोटेंशियल है बस इसमें आपको कुछ बातों का ध्यान देना है जैसे लोकेशन, टारगेट ऑडियंस, मार्केट स्ट्रेटजी, इन सब पर अच्छे से काम करोगे तो आपको बहुत ही अच्छा मुनाफा मिल सकता है।

इसे भी पढ़ें How to Start Garment Business with Low Investment

Important tips 

  • अगर आपको स्टेशनरी बिजनेस के बारे में आईडिया नहीं है और आप यह बिजनेस करना चाहते हो तो यह जरूरी है कि आपको स्टेशनरी बिजनेस के बारे में नॉलेज होना चाहिए। 

तो उसके लिए आप किसी स्टेशनरी शॉप में 3 महीने के लिए ट्रेनिंग कर सकते हो क्योंकि कोई भी आपको इतनी आसानी से यह सारी चीजें नहीं सिखाएगा। वहां पर आपको बहुत फायदे हो सकते हैं जैसे कौन सा स्टेशनरी आइटम किस सप्लायर के थ्रू आता है उस पर कितनी मार्जिन मिलती है किस प्रोडक्ट ज्यादा फायदा है ज्यादा मार्जिन मिलती है, कस्टमर ज्यादा कौन से प्रोडक्ट लेते हैं, कस्टमर से कैसे डील करनी है, बहुत कुछ आप कुछ 3 महीने या 6 महीने में सीख जाओगे और आपके कांटेक्ट भी सप्लायर से हो जाएंगे तो आप उनसे भी मदद ले सकते हो जानकारी ले सकते हो फिर उसके बाद अब अपना बिजनेस प्लान कीजिए

उससे आपको यह भी पता चल जाएगा कि आपको कितना इन्वेस्टमेंट लगेगा और पहले कितनी जरूरत है इंपॉर्टेंट है तो आप उस का स्टॉक ज्यादा रख सकते हैं अगर आपको नॉलेज नहीं है तो आप अपने हिसाब से स्टॉक कर दोगे लेकिन अगर आपको पहले से आया है कि यह ज्यादा चलता है तो उसके ज्यादा रखो

  • अगर आप किसी कारणवश किसी शॉप में काम नहीं कर सकते हो जो कि मेरी राय में अगर आपको मौका मिलता है तो जरूर कीजिए आपको बहुत फायदा होगा लेकिन अगर आप नहीं कर पा रहे हो और आपको कांटेक्ट चाहिए तो आप आपके एरिया के जो स्टेशनरी दुकान है वहां पर जा सकते हो वहां पर अब देख सकते हो कौन से सप्लायर आते हैं कब आते हैं फिर आप उनसे बात कर सकते हो उनसे जानकारी ले सकते हो कि मुझे बिजनेस करना है और आप मुझे एक्सप्लेन कीजिए कि क्या मार्जिन होता है कहां से लेना है अगर वह व्यक्ति अच्छा है तो आपको सारी जानकारी मुफ्त में दे देगा तो आपको काफी मदद मिलेगी बिजनेस प्लान करने के लिए
  • अगर आप चाहते हो कि आपके बिजनेस में और फायदा हो आपको तो और भी आइटम रख सकते हो जैसे बहुत सारे स्टेशनरी शॉप में सिर्फ स्टेशनरी के सामान नहीं होते और भी चीजें रखी जाती है जैसे कि गिफ्ट्स रखे जाते हैं तो गिफ्ट के कस्टमर काफी होते हैं जैसे कि बच्चों के बर्थडे के लिए गिफ्ट लिए जाते हैं खिलौने, स्टेशनरी आइटम या फिर किसी बड़े को देना है गिफ्ट किसी फ्रेंड को गिफ्ट देना है ऑफिस में गिफ्ट देना है उसके भी गिफ्ट आइटम आपके पास होने चाहिए तो आपके पास आप देख लो कस्टमर ब्रॉड हो रहा है सिर्फ स्कूल के बच्चे ही अब आपके कस्टमर नहीं है। शॉप में जाकर आधे घंटे के लिए देखिए कौन-कौन से स्टेशनरी आइटम इन्होंने स्टोक किए हुए हैं जिससे आपको काफी नॉलेज मिल जाएगा कि आप और भी क्या अपने दुकान में रख सकते हो जैसे मैंने आपको गिफ्ट बताएं खिलौने आप रख सकते हो जब आपके दुकान में बच्चे आएंगे स्टेशनरी लेने के लिए तो   उनका मन करेगा कि वह खिलौने भी ले तो आपके खिलौने की भी बिक्री होगी आपको पता है खिलौनों में बहुत ही अच्छी मार्जिन मिली जाती है और जब वह आपके पास stationary के सामान लेने के लिए आएंगे तो हमको पता है कि यहां पर गिफ्ट मिलता है, कभी किसी के लिए गिफ्ट देना है आपके दुकान में आएंगे हो सके तो डिस्काउंट दोगे तो कोई दूसरी दुकान में नहीं जाएगा भले थोड़ा ही डिस्काउंट हो वह आपके पास ही आएगा। 

स्ट्रेटजी होती है अपने कस्टमर को बांध के रखने की। शॉप में आपको एक मेकअप का सेक्शन भी अलग मिल जाता है क्योंकि जब लेडीस आती है अपने बच्चों के साथ स्टेशनरी आइटम लेने के लिए तो अपने लिए मेकअप के सामान भी लेती है छोटी मोटी चीजें उनकी जो डेली यूज़ की चीजें होती है उसका स्टॉक अलग होता है बहुत थोड़ी सी जगह में अनुभाग उनके लिए फिक्स होता है तो आप देख रहे हो कि आप एक दुकान में और भी चीजें रखने की वजह से आपके पास अलग-अलग टारगेट ऑडियंस आएगी जैसे समर वेकेशन होता है बच्चों का तो उसमें आपकी स्टेशनरी आइटम कम सेल होगे। 

लेकिन अगर आपके पास गिफ्ट्स, मेकअप, खिलौने यह सब भी आप रखते हो तो इनके द्वारा आपकी दुकान उस समय चल सकती है

  • पता है स्टेशनरी बिजनेस बहुत ही पॉपुलर डिमांडिंग है और कभी खत्म नहीं होने वाला है क्योंकि बच्चे स्कूल हमेशा जाएंगे उनको लिखने के लिए बुक्स लगने वाली है यह बहुत ही एक प्रॉफिटेबल बिजनेस है क्योंकि सिर्फ पढ़ाई की चीजों की रिक्वायरमेंट हमेशा नहीं होती है आजकल आपको पता है स्कूल में क्राफ्ट कितने होते हैं। उसमें उन्हें बहुत सारी चीजें लगती है।
  • और अगर आपको सिर्फ स्टेशनरी की दुकान शुरू करनी है कुछ और आइटम्स आपको नहीं रखने उसमें तो आप जेरॉक्स मशीन रख सकते हो यहां से आपकी एक्स्ट्रा इनकम हो सकती है।

Conclusion 

Stationery business काफी डिमांडिंग प्रॉफिटेबल बिजनेस है अगर आप सही तरीके से सब फॉलो करोगे जैसे जो भी मैंने स्टेप्स को बताया मार्केट रिसर्च, बिजनेस प्लान, मार्केट स्ट्रेटजी, तो यह बिजनेस एरिया काफी अच्छा है और इसकी डिमांड कभी कम नहीं होगी और जो मैंने आपको टिप्स दिए हैं उसे जरूर फॉलो कीजिए इससे आप अच्छा मुनाफा कमा सकते हो। अगर आप stationery business शुरू करना चाहते हो और आपको कोई सवाल है तो आप जरूर कमेंट कीजिए हम आपकी मदद जरूर करेंगे।

अधिक बिजनेस आइडिया की जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

Please follow and like us:

Leave a Comment

Your question is saved and will appear when it is answered.

Be the first to ask!