How a Neha Bagaria innovative business idea grew into a Rs 8.87 billion venture

बेंगलूर जैसे बड़े विकसित शहर में Neha Bagaria ने अपना पहले स्टेप्स २०१५ में स्टार्टअप में लगाया उसका नाम हे jobsForHer यह एक bootstrap स्टार्टअप हे बाद में इसका नाम HerKey रखा २०२३ में |

Neha Bagaria अपना बिज़नेस ५ टीम मेंबर के साथ स्टार्ट किया था अब उनकी १००+ भी ज्यादा टीम हे।  

J3A1799
How a Neha Bagaria innovative business idea grew into a Rs 8.87 billion venture

Neha Bagaria अब ४२ साल की हे उनको अपने बिज़नेस के स्टार्टिंग में ही बहुत सरे चुनौती का सामना करना पड़ा। 

अपने स्ट्रगल के बारे में बताते हुए कहती हे की ५ मार्च २०१५ में उनको वेबसाइट लांच करनी थी but  वह पर 

इंटरनेट कनेक्शन नहीं था तो वो ‘सोशल’ (स्ट्रीट वर्कप्लेस) वह जाकर try  किया but वह भी इंटरनेट नहीं था तो उन्होंने Starbucks में वह भी poor कनेक्शन था इंटरनेट का तो उन्होंने अपने घर के टेरेस पर wi-fi लगाकर वेबसाइट लांच की। 

आज उनके बिज़नेस का 8.87 करोड रूपए का टर्नओवर हे। 

HerKey का vision पहले से ही क्लियर था।  उन वीमेन हेल्प करना चाहती जो किसी कारण से उनकी carrer में आगे नहीं बढ़ पा रहे थे। 

अब हम देखते हे उनके प्लेटफार्म के बारे में तो जो भी वीमेन नौकरी की तलाश में हे तो वो herkey की वेबसाइट में जाकर डायरेक्टली वहा पर अप्लाई कर सकती हे। 

उनके सर्विसेज लेने के लिए कोई भी पैसा नहीं लेती थी women से । इसके बजाय, कंपनियां महिलाओं को अपने कार्यबल में जोड़ने के लिए HerKey को भुगतान करती है। 

sddefault 2
Neha Bagaria

Herkey ये प्लेटफार्म naukri.com, LinkedIn जैसा ही हे। किन्तु इसमें सबसे पड़ा अंतर यही हे की यह बस कनेक्टिंग प्रोग्राम नहीं हे यह प्लेटफार्म women को training, teaching, mentorship provide करता हे। 

जो भी कंपनी के एग्जीक्यूटिव थे women को जॉब पर रखने के लिए मना करते थे तो नेहा इस पर कहती हे ”मानसिक राक्षसों से लड़ना सबसे बड़ी चुनौती थी उनको, “पेशेवर खतरों के अलावा, मुझे अपने डर, संदेह और अपराधबोध से बाहर निकलने में कई साल लग गए, जिसमें मैं वापसी के बारे में सोचते समय खुद को एक बुरी पत्नी और एक बुरी मां मानती।”

लेकिन, नेहा ने पीछे हटने से इनकार कर दिया, “आज भी जब मैं अपने बच्चों को बस स्टॉप से ​​लेने जाती हूं, तो लोग आश्चर्यचकित हो जाते हैं। लोग मुझसे पूछते हैं, क्या आप कोई एनजीओ चलाती हैं या इम्पैक्ट स्पेस में काम करती हैं,” नेहा मुस्कुराते हुए बताती हैं।

समय प्रबंधन एक ऐसी चीज है जिस पर नेहा बहुत जोर देती हैं। वह खुद गूगल कैलेंडर की सख्त अनुयायी हैं और उस पर कायम रहने की पूरी कोशिश करती हैं।

HerKey कंपनी को सब्सक्रिप्शन पैकेज ऑफर करती हे वो कम से कम प्राइस में होकर १ लाख ते १५ लाख तक रहता हे। इन पैकेजों की लागत इस बात पर निर्भर करती है कि कोई कंपनी कितने कर्मचारियों को नियुक्त करना चाहती है और वे हरकी से कितनी पदोन्नति प्राप्त करना चाहते हैं।

कंपनियों के पास अपनी आवश्यकताओं के अनुरूप पैकेज अवधि चुनने की सुविधा है – वे अल्पकालिक तीन महीने का पैकेज, छह महीने का पैकेज या पूरे साल का पैकेज चुन सकते हैं। इन आकर्षक पेशकशों के साथ, HerKey ने 10,000 से अधिक कंपनियों के साथ सफलतापूर्वक साझेदारी की है।

इन भागीदार कंपनियों की दृश्यता बढ़ाने के लिए, हरकी एक बहु-आयामी प्रचार रणनीति अपनाती है। वे साझेदार कंपनियों को प्रदर्शित करने के लिए अपनी वेबसाइट का उपयोग करते हैं।

download 55
HerKey नौकरी चाहने वालों से शुल्क नहीं लेती है बल्कि कंपनियों से इसकी फीस प्राप्त करती है

अपने ऑडियंस तक पहुँचने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म और ईमेल मार्केटिंग का use करते हे।
२०२२ तक कंपनी self funded थी। अभी कलारी और ३६० one asset से funding राउंड में उन्होंने Rs ३२ करोड़ raised किये
नेहा maam का जन्म मुंबई में हुआ। तो नेहा बचपन से बहुत bright स्टूडेंट थी। नेहा का अपने क्लास फर्स्ट रैंक आता था। और फिर वो prestigious Wharton School, University Pennsylvania. में दाखल हुए।
Post-ग्रेजुएशन के बाद वो फिरसे इंडिया में वापस आयी और फिर उसने अपने फॅमिली के बिज़नेस में एंटर किया। तो इस स्टेप्स उनके बिज़नेस वीमेन बनाने के प्रयास को बढ़ाया दिया।
हम कह सकते HerKey का जन्म नेहा के स्ट्रगल से हुआ। नेहा ने जब अपने प्रोफेशनल रंगभूमि में प्रवेश किया मातृत्व छोड़कर तब Herkey कंपनी का जन्म हुआ।
नेहा बताती हे जब मैंने मेरे दूसरे बचे के बाद करियर फिरसे शुरू करने के टाइम बहुत चुनौती का सामना करना पड़ा। तो यही से नेहा को प्रोफेशनल जर्नी स्टार्ट करने के लिए एक मंच या सपोर्ट जरूरत की एहसास हुआ।
हरकी अपनी स्थापना के बाद से तेजी से बढ़ी है और हजारों महिलाओं के जीवन को प्रभावित कर रही है।

तो यही एक साधारण नौकरी पोर्टल से यह एक बहुत बड़ा प्लेटफार्म बन चूका हे। तो यह प्लेटफार्म ट्रेनिंग, मेंटरशिप, नेटवर्किंग, जॉब प्लेसमेंट के लिए बढ़ावा देता हे।
तो जो भी महिला करियर गैप के बाद फिरसे अपना करियर स्टार्ट करना चाहती उनके लिए यह प्लेटफार्म सपोर्ट के लिए खड़ा हे।

इस जर्नी में नेहा को उनके पति अनुराग और भाई हर्ष का बहुत सपोर्ट मिला हे।

अनुराग का बहुत सारा सपोर्ट रहा हे। नेहा बताती हे की अगर हमारे पास ऐसे कोई सपोर्ट करने का हमारे कठिन समय में तो हमारे लिए वो एक वरदान ही हे। अपने पति के बारे में बताते हुए नेहा कहती हे की वो मेरे लिए सहयोग जीवनसाथी हे।

अपने भाई के बारे में बताते हुए वो कहती हर्ष ही वह व्यक्ति था जिसने मुझे धक्का दिया और कहा कि बस करो। मैं एक गैर-तकनीकी व्यक्ति थी और उनके मार्गदर्शन के कारण इस कंपनी को तकनीकी आधार पर खड़ा किया।

HerKey वास्तव में अपनी साधारण शुरुआत से एक लंबा सफर तय कर चुकी है। कंपनी बेंगलुरु के क्वीन’स रोड इलाके में किराए के 5000 वर्ग फुट के आवास से पूरी तरह से ऑनलाइन मोड में काम करती है।

आज, 100 से अधिक कर्मचारियों की एक टीम के साथ, जिनमें से अधिकांश महिलाएं हैं, और अमेज़ॅन, एक्सेंचर, कैपजेमिनी, टीवीएस मोटर्स, मिंत्रा, डेल और पीडब्ल्यूसी सहित विविध ग्राहकों के साथ, HerKey कार्यबल में महिलाओं की भूमिका को फिर से परिभाषित कर रही है।

वह कहती हैं, “स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र में प्रवेश करने का लक्ष्य रखने वाले व्यक्तियों के लिए मेरा सुझाव धैर्य, दृढ़ता और कभी न हार मानने वाला रवैया अपनाना है।”

अपने आप को उन लोगों से दूर रखना महत्वपूर्ण है जो आपको जज रहे हैं, इसके बजाय अपने आप को सकारात्मक व्यक्तियों से घेरें जो उस समय आपका समर्थन करने के लिए मौजूद हैं जब आपको उनकी सबसे अधिक आवश्यकता होती है।

Please follow and like us:

Leave a Comment

[askmeanythingpeople]